Ujjain – महाकाल मंदिर में भस्म आरती से पहले राम दरबार की मूर्ति भी विराजित

WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

उज्जैन, मध्य प्रदेश के विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर उज्जैन में आज अयोध्याधाम में होने वाली श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा की धूम है। ज्योतिर्लिंग भगवान महाकाल की नगरी में इसे महामहोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है। अनेक आयोजन होंगे। प्रत्येक आरती में भगवान को पांच क्विंटल फूल अर्पित किए जाएंगे। यहां सोमवार तड़के चार बजे भस्म आरती से महामहोत्सव की शुरुआत हुई। Ujjain Mahakal mandir madhya pradesh. Ram darbar also placed alongside Baba Mahakaal on auspicious day of pran-pratishtha.

भस्म आरती से पहले राम दरबार की मूर्ति लाकर महाकाल के बगल में विराजित की गई। भस्म आरती में मंगलगान के साथ फूलों की वर्षा हुई। आतिशबाजी की गई। दोपहर 12 बजे से श्रीरामजी की भव्य आरती की जाएगी। मंदिर परिसर में ड्रोन से पुष्पवर्षा होगी। शाम को दीपोत्सव मनाया जाएगा। इस दौरान यहां एक लाख दीप प्रज्वलित किए जाएंगे।

मंदिर प्रबंध समिति के प्रशासक संदीप कुमार सोनी ने बताया कि नंदी मंडपम एवं गणेश मंडपम में भगवान श्रीराम का संकीर्तन होगा। इसके बाद शिवराम स्तुति की जाएगी। श्री महाकालेश्वर मंदिर में दोपहर 12:30 बजे भगवान श्रीराम की महाआरती की जाएगी। प्रसाद वितरण भी होगा। आरती के दौरान मंदिर परिसर में ड्रोन से पुष्पवर्षा की जाएगी। शिखर दर्शन स्थल एवं कोटीतीर्थ कुंड के चारों ओर सायं 7 बजे एक लाख दीप प्रज्ज्वलित किए जाएंगे। शिखर दर्शन स्थल एवं कोटीतीर्थ कुण्ड के चारों ओर दीपों से जय श्री राम लिखा जाएगा।

श्री महाकालेश्वर मंदिर परिसर में सायं 07:30 बजे भजन संध्या आयोजित की गई है। रात आठ बजे भव्य आतिशबाजी की जाएगी। भगवान श्री महाकालेश्वर जी की त्रिकाल आरती के दौरान प्रत्येक में पांच क्विंटल पुष्पों की वर्षा की जाएगी। मंदिर प्रांगण में एलईडी के माध्यम से श्रीराम जन्मभूमि के सजीव प्रसारण को दिखाया जाएगा।

प्राण प्रतिष्ठा: अतिथियों को विशेष डिब्बे में मिलेगा थेपला पराठा, पूड़ी, गाजर मटर व बीन्स की सब्जी

अयोध्या, रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में आए आमंत्रित अतिथियों को आज विशेष डिब्बे में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से भोजन प्रसाद मिलेगा। भोजन प्रसाद में बादाम बर्फी, मटर कचौड़ी, दो थेपला पराठा, दो पूड़ी, गाजर मटर बीन्स की सब्जी, मिर्च और आम के आचार को शामिल किया गया है।

अतिथियों के भोजन को सोमवार सुबह ही चार गाड़ियों से प्राण प्रतिष्ठा के समारोह स्थल पर भेज दिया गया है। रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आमंत्रित अतिथियों को मिलने वाले इस खास भोजन प्रसाद को शिवदयाल जायसवाल सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कॉलेज तुलसीनगर अयोध्या धाम में बनाया गया है। भोजन प्रसाद के लिए दस हजार पैकेट तैयार किया गया है।

प्रसाद निर्माण स्थल विद्यालय के प्रधानाचार्य अवनी कुमार शुक्ला ने बताया कि 18 जनवरी से इस विशेष भोजन प्रसाद को बनाने का कार्य शुरु कर दिया गया था। जिसमें चार सौ से अधिक कारीगर वाराणसी से उद्योगपति एवं समाजसेवी सूर्यकांत जालान के नेतृत्व में लगे हुए हैं। सभी भोजन को देशी गाय के शुद्ध घी में बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि भोजन प्रसाद को आज सुबह छह बजे ही राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा स्थल पर पहुंचा दिया गया है।

अतिथियों को मिलेगा खास प्रसाद

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अतिथियों को देने के लिए 15 हजार प्रसाद पैकेट भी तैयार करवाया गया है। तीन प्रकार का प्रसाद पैकेट तैयार है। एक पैकेट पर राम मंदिर आंदोलन के मार्गदर्शक पूज्य संत देवरहा बाबा का चित्र है तो दूसरे पैकेट पर आंदोलन के अग्रदूत व हनुमान स्व अशोक सिंघल की तस्वीर है। तीसरा पैकेट पर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की तस्वीर है।

प्रसाद के रूप में रामभक्तों को गुड़ रेवड़ी, रामदाने की चिक्की के साथ अक्षत और रोली भी मिलेगा। वहीं रोली अक्षत की भी विशेष पैकिंग की गई है। प्रसाद के पैकेट में विशेष रूप से विष्णु को प्रिय ‘तुलसी दल’ को भी स्थान दिया गया है।

Share Reality:
WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *