G 20 summit -गाजियाबाद में सुरक्षा में तैनात रहेंगे एक हजार से अधिक पुलिसकर्मी, हिंडन एयरपोर्ट क्षेत्र की निगरानी ड्रोन से

WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

गाजियाबाद, भारत इस बार जी-20 देशों की मेजबानी कर रहा है और यह भारतीय इतिहास का सबसे बड़ा आयोजन होने जा रहा है. जिसमें बड़े स्तर पर भागीदार देशों और आंमंत्रित देशों के प्रतिनिधियों के रहने का आयोजन भी होगा. गाजियाबाद कमिश्नरेट पुलिस UP Police- जी-20 को लेकर तैयारियों में जुटी हुई है. जी-20 के मद्देनजर गाजियाबाद में एक हजार से अधिक पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है.

डीसीपी ट्रांस हिंडन शुभम पटेल के मुताबिक हिंडन एयरपोर्ट की सुरक्षा और और जिस मार्ग से विदेशी मेहमान होकर दिल्ली जाएंगे उस रूट की सुरक्षा का असेसमेंट कर लिया गया है. सिविल टर्मिनल की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा भी कर ली गई है. सिविल टर्मिनल पर स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स के 150 से अधिक जवानों की तैनाती की जाएगी.

हिंडन एयरपोर्ट से दिल्ली को जोड़ने वाले मार्ग पर 800 से अधिक पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी. मार्ग में पड़ने वाले सभी कट और यू टर्न पर ट्रैफिक पुलिस और सिविल पुलिस की तैनाती रहेगी. सभी कट्स पर बैरिकेडिंग की जाएगी. वीआईपी मूवमेंट के दौरान मार्ग को सामान्य ट्रैफिक के लिए पूरी तरह से बंद किया जाएगा. शुभम पटेल के मुताबिक मार्ग पर पड़ने वाली सभी दुकानों और मकानों का पुलिस द्वारा सत्यापन कराया जा रहा है. मुख्य चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं. सिविल टर्मिनल के आसपास ड्रोन से निगरानी रखी जाएगी.

बता दें, सात से 10 दिसंबर के बीच रोड पूरी तरह से पुलिस की सुरक्षा में रहेगा. रूट पर अस्थाई रूप से लगने वाली रेड़ी और ठेली को हटाया जाएगा. हिंडन सिविल टर्मिनल से एलिवेटेड रोड होते हुए यूपी गेट तक नगर निगम द्वारा सौन्दर्यकरण का कार्य किया जा रहा है. नगर निगम द्वारा मार्ग पर पेंटिंग्स, कलरफुल लाइटिंग, पोल्स की रंगाई, जी-20 के स्लोगन, आसपास पड़ने वाली पानी की टंकियां की पेंटिंग और जी-20 की होर्डिंग्स आदि लगाई जा रही है.

गाजियाबाद में 15 अक्टूबर तक धारा 144 लागू

जन्माष्टमी, चेहल्लुम, नई दिल्ली में आयोजित होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन, विश्वकर्मा पूजा, ईद उल मिलाद उन नबी, गाँधी जयन्ती, महाराजा अग्रसेन जयन्ती और विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के दौरान सुरक्षा व्यवस्था, जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान आने वाले अतिविशिष्ट एवं विशिष्ट महानुभावों की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए कमिश्नरेट गाजियाबाद में धारा 144 लागू की गई है.

15 अक्टूबर तक गजियाबाद में धारा 144 लागू रहेगी. जिसके तहत किसी भी सार्वजनिक स्थल पर पांच या पांच से अधिक व्यक्ति बिना सक्षम अधिकारी के आदेश के धरना, जुलूस, प्रदर्शन आदि के लिए एकत्रित नहीं होंगे. कोई भी व्यक्ति, समूह आदि बिना अनुमति के कोई शिविर स्थापित नहीं करेंगे. साथ ही जुलूस, सभा, सम्मेलन, धरना प्रदर्शन, रैली और अन्य कार्यक्रम का आयोजन भी बिना अनुमति के नहीं होगा. हालांकि यह प्रतिबंध विवाह एवं शव यात्रा पर लागू नहीं होगा.

कोई व्यक्ति अथवा व्यक्तियों का समूह किसी भी सार्वजनिक स्थल व अपने घर की छत पर किसी प्रकार की ईट पत्थर किसी भी प्रकार की मिट्टी, कांच की बोतलें, सोडा वाटर की बोतलें एवं कोई भी ऐसा ज्वलनशील पदार्थ एकत्रित नहीं करेगा. कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया या प्रिन्ट मीडिया के माध्यम से ऐसी बात नहीं कहेगा और न ही प्रकाशन के माध्यम से प्रचारित और प्रसारित करेगा. जिससे सामाजिक भावनाओं को ठेस पहुँचे.

Share Reality:
WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *