Trade News -लैपटॉप आयात के लिए 110 आवेदनों को सरकार ने मंजूरी दी

WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

सरकार ने लैपटॉप, कंप्यूटर और अन्य आईटी हार्डवेयर उत्पादों के आयात की मंजूरी के लिए अबतक मिले 111 आवेदनों में से लगभग 110 को मंजूरी दे दी है। एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी। Good news for techies this Diwali. Central govt. have accepted 110 applications for laptop import from Tech. Giants after a months long ban this lift have brought a positive wave in the import market.

आयात की मंजूरी पाने वाली कंपनियों में डेल इंटरनेशनल सर्विसेज इंडिया, एपीएल इंडिया, एचपी इंडिया सेल्स प्राइवेट लिमिटेड, लेनोवो (इंडिया), आसुस इंडिया, आईबीएम इंडिया, सैमसंग इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स, शाओमी टेक्नोलॉजी इंडिया, सिस्को कॉमर्स इंडिया, सीमेंस लिमिटेड और बॉश लिमिटेड शामिल हैं।

अधिकारी ने कहा कि आईटी उत्पादों के आयात की मंजूरी पाने के लिए अबतक 111 आवेदन प्राप्त हुए हैं।

सरकार ने पिछले महीने लैपटॉप और पर्सनल कंप्यूटर के आयात पर लगी पाबंदियों में बदलाव किया था। इसके बाद आयातक मात्रा और मूल्य का विवरण देने पर ‘मंजूरी’ लेकर विदेशों से आईटी हार्डवेयर का आयात कर सकते हैं।

नई ‘आयात प्रबंधन प्रणाली’ का उद्देश्य बाजार की आपूर्ति को प्रभावित किए बगैर या बोझिल लाइसेंसिंग व्यवस्था बनाए बिना देश में लैपटॉप, टैबलेट और कंप्यूटर के आयात पर नजर रखना है।

अधिकारी ने कहा, ”अबतक लगभग 110 आयात अनुमति जारी की जा चुकी है। सभी प्रमुख आईटी हार्डवेयर कंपनियां पहले ही यह अनुमति ले चुकी हैं। इस बारे में मिले सभी आवेदनों को निर्धारित समय के भीतर निपटाया जा रहा है। आज तक कोई लंबित नहीं है।”

नई लाइसेंस व्यवस्था भारत की विश्वसनीय आपूर्ति श्रृंखला सुनिश्चित करने के लिए लैपटॉप, पर्सनल कंप्यूटर (टैबलेट कंप्यूटर सहित), माइक्रो कंप्यूटर, बड़े या मेनफ्रेम कंप्यूटर और कुछ डेटा प्रोसेसिंग मशीनों पर लागू है।

सरकार ने लैपटॉप एवं पर्सनल कंप्यूटर के घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए इनके आयात पर कुछ अंकुश लगाए हैं। पहले इसके लिए लाइसेंस जारी करने की बात कही गई थी लेकिन बाद में इसे सिर्फ मंजूरी तक ही सीमित कर दिया गया।

Share Reality:
WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *