Wall of Shame – नवजात को मृत बताकर उसे सभासद को बेच दिया. डॉक्टर अकरम जमाल /हिफजुर्रहमान गिरफ्तार

WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

बलरामपुर, बलरामपुर जिले के पचपेड़वा क्षेत्र में स्थित एक नर्सिंग होम में जन्मे एक बच्चे को मृत बताकर उसे बेच देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने नवजात को बरामद कर दो डॉक्टरों को गिरफ्तार किया है। A strange and heinous crime committed by a local maternity home in Balrampur. Doctor Akram Jamal and Hifazurrehman stole a new born from his mother and sold it to a local consulate. He is on run to Nepal and child is rescued from the accused’s house.

पुलिस अधीक्षक केशव कुमार ने बुधवार को बताया कि गोरा चौराहा थाना क्षेत्र के झोववा गांव के निवासी जय जयराम की पत्नी पुष्पा देवी पिछले माह 29 अक्टूबर को पचपेड़वा के मिशन अस्पताल एवं जच्चा बच्चा सर्जिकल केंद्र में प्रसव के लिये भर्ती हुई थी। पुष्पा देवी ने ऑपरेशन के बाद एक बच्चे को जन्म दिया था।

कुमार के मुताबिक, आरोप है कि अस्पताल के डॉक्टर अकरम जमाल ने पुष्पा का ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर हिफजुर्रहमान के साथ मिलकर, बढ़नी नगर पंचायत वार्ड संख्या-दो के सभासद निसार के हाथों उसके नवजात बच्चे को बेच दिया। ऑपरेशन के बाद जब पुष्पा देवी को होश आया तो डॉक्टरों ने बताया कि उसके बच्चे की मौत हो गई।

कुमार ने बताया ”लेकिन पुष्पा देवी को यकीन था कि उसका बच्चा जीवित है। वह लगातार अस्पताल के चक्कर लगा कर बच्चा वापस दिए जाने की मांग करती रही।”

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 26 नवंबर को शक के आधार पर पचपेड़वा थाने में पुष्पा देवी ने तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया। इस पर पुलिस ने कार्यवाही करते हुए अस्पताल के डॉक्टर अकरम जमाल तथा डॉक्टर हिफजुर्रहमान को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर सभासद निसार के घर से नवजात को बरामद कर लिया। उन्होंने बताया कि बच्चे को पुष्पा देवी के सुपुर्द कर दिया गया है। घटना के बाद सभासद नेपाल भाग गया और उसकी गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं।

Share Reality:
WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *