PMO -प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में भाग लेने मोदी पहुंचे अयोध्या

WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

अयोध्या, श्रीरामजन्मभूमि पर रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में भाग लेने प्रधानमंत्री नरेन्द्र सोमवार को अयोध्या पहुंचे जहां उनका स्वागत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया। Pm Modi reached Ayodhya to attend Shri Ram mandir ceremony where Governor state smt. Anandiben Patel and CM Yogi ji were present to receive the PM.

नवनिर्मित महर्षि बाल्मिक हवाई अड्डे से श्री मोदी का काफिला जन्मभूमि परिसर के लिये रवाना हो गया। श्री रामलला की नूतन श्यामल किशोरावस्था प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा अभिजीत मुहुर्त में दोपहर 12:20 बजे से की जायेगी। अभिजीत मुहुर्त मात्र 84 सेकेंड का है जिसकी शुरुआत 12 बजकर 29 मिनट आठ सेकेेंड से होगी। कड़ाके की ठंड और कोहरे के बीच सूर्यवंशी श्रीराम के स्वागत के लिये आज सूर्यदेव भी बादलों के बीच से झांकने लगे है।

प्रभु राम की प्राण प्रतिष्ठा की जा अनुष्ठान की शुरुआत 16 जनवरी को सरयू तट से हुयी थी। समारोह के अनुष्ठान की सभी प्रक्रियाओं का समन्वय, समर्थन और मार्गदर्शन करने वाले 121 आचार्य होंगे। वाराणसी के गणेशवर शास्त्री द्रविड़ सभी प्रक्रियाओं की निगरानी, समन्वय और दिशा-निर्देशन करेंगे तथा काशी के लक्ष्मीकांत दीक्षित मुख्य आचार्य होंगे। श्रीरामजन्मभूमि पर भव्य राममंदिर में श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में काशी के डोम राजा समेत विभिन्न वर्गों से 15 यजमान सपत्नीक शामिल होंगे। अनुष्ठान में आज के पूजन की शुरुआत श्री गणपति वंदना से होगी जिसके बाद कलश पूजन, सप्त घृत मात्रिका पूजन, 64 योगिनी पूजन,भूमि पूजन,नवग्रह पूजन,क्षेत्रपाल पूजन,ब्रहृमा विष्णु महेश, चारो द्वार पूजन के बाद प्रधानमंत्री श्री मोदी प्रतिमा के आंखो से पीली पट्टिका हटा कर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को संपन्न करायेंगे।

इस शुभ अवसर का साक्षी बनने के लिये साधु संत,धर्माचार्य,बुद्धिजीवी,उद्योग,खेल और फिल्म जगत की तमाम प्रतिष्ठित हस्तियां कार्यक्रम स्थल पर पहुंच चुकी हैं। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आमंत्रित मेहमानो को प्रवेश क्यूआर कोड स्कैन कर दिया जा रहा है।

समूची अयोध्या में पुराणों में वर्णित त्रेता युग सी अनुभूति हो रही है। विभिन्न वाद्य यंत्राे से नवनिर्मित मंदिर परिसर में मंगल ध्वनि ने वातावरण को भक्ति रस का प्रवाह होने लगी है।

युगांतकारी दिन है प्राण प्रतिष्ठा का: धनखड़

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने अयोध्या में श्री राम लला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा को युगांतकारी दिन बताया है और राष्ट्रवासियों को इसकी शुभकामनाएं दी है।

श्री धनखड़ ने सोमवार को यहां जारी एक संदेश में कहा कि सर्वत्र राष्ट्रीय गौरव के पुनर्जागरण के उत्सव के पल का साक्षी बनना सुखद है।

उन्होंने कहा, “राम जन्मभूमि, ऐतिहासिक नगरी अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के इस युगांतकारी दिन पर बधाई। ग्यारह दिनों के कठोर अनुष्ठान के बाद, अयोध्या में राम लला के अभिषेक समारोह का मार्गदर्शन करने वाले अन्य यजमानों, संतों और द्रष्टाओं की उपस्थिति में पवित्र अनुष्ठान का नेतृत्व करते हुए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को हार्दिक शुभकामनाएं।”

उप राष्ट्रपति ने कहा कि 22 जनवरी इतिहास में हमारे सभ्यतागत पथ में ‘दिव्यता के साथ साक्षात्कार’ के निर्णायक क्षण के रूप में अंकित है। उन्होंने कहा, “इस दिन, आइए हम चारों ओर ज्ञान, शांति, सद्भाव और धार्मिकता लाने के लिए प्रभु श्री राम के सत्यनिष्ठा, क्षमा, पराक्रम, नम्रता, देखभाल और करुणा के मूल्यों को जीवन के तरीके के रूप में विकसित करने का संकल्प लें।”

Share Reality:
WhatsAppFacebookTwitterLinkedIn

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *